Recent Posts


UPSC ka full form - UPSC क्या है तैयारी कैसे करें योग्यता

UPSC ka Full Form क्या है आज इस Post में हम UPSC से जुड़े सभी Doubt दूर करने वाले है। बहुत से student है जो Competitive exam की तैयारी कर रहे है।  लेकिन उन्हें सही information नहीं होती है।  जिसके कारण बार-बार असफल हो जाते है।

UPSC ka full form
UPSC ka full form

उनके लिए ये पोस्ट बहुत Help फुल होगा। तो अब Start करते है की वो सही information है जो  Competitive exam की तैयारी करने वाले सभी student को रहनी चाहिए।


    UPSC ka Full Form  क्या है -

    Union Public Service Commission ( संघ लोक सेवा आयोग ) जिसके अध्यक्ष (Chairperson ) अरविन्द सक्सेना जिसका Headquarter - new Delhi में है। 

    UPSC  क्या है (What is UPSC ) 

    आज हम बात करने वाले हो UPSC के बारे में और साथ में हम PSC के बारे में भी जरूर बात करेंगे शायद आपने पहले PSC ना सुना हो लेकिन अगर हम UPSC के बारे में बात कर रहे हैं। तो सबसे पहले PSC के बारे में लेना जरूरी है PSC क्या होता है इसका Full Form मैने ऊपर बता दिया है। और UPSC का Full Form ऊपर  दिया है।

    तो यहाँ पर मैं आपको बताता  हूँ कि UPSC के बारे में जानने से पहले हमें यह जान लेना बहुत ज्यादा जरूरी होता PSC है क्या तो PSC का मतलब होता है Public service commission और  हिंदी में कहें तो (लोक सेवा आयोग) और ये Govt. की एक ऐसी संस्था है। जिसके द्वारा ग्रुप A और ग्रुप B यानी जो प्रथम श्रेणी होती है और दूसरी श्रेणी दोनों श्रेणी के अधिकारियों का selection इसी संस्था के द्वारा किया जाता है।

    इस organization की स्थापना  1 अक्टूबर 1926  में तो इसकी स्थापना हुई थीं। यानी की आजादी से पहले ये Establishment हो गई थी।  उसके बाद यानी की आजादी के बाद सन् 1950  में लोक सेवा आयोग में यानी PSC में कुछ बदलाव किए गए। कुछ Changes लाये गए PSC  के जीतने भी अधिकार थे उन अधिकारों से विस्तार करके इसे UPSC  का नाम दे दिया गया UPSC  को हम हिंदी में कहेंगे संघ लोक सेवा आयोग Union public service commission यानी की PSC बाद में UPSC बन गया पहले से PSC के नाम से जाना जाता था।

    बाद में UPSC बन गया पहले से PSC के नाम से जाना जाता था इसके अधिकारों का विस्तार करके PSC का नाम UPSC रख दिया गया। UPSC का सबसे Main का होता है कि प्रथम श्रेणी के officers और द्वितीय श्रेणी के officers का चयन करें।

    और पड़े -
    Full Form Google ऑफ़ हिंदी 
    What Is Python पूरी जानकारी 
    फुल Form ऑफ़ Anm कैसे करे

    या फिर सिविल सेवकों का भी Selection करे तो UPSC के माध्यम से देश में IAS, IPS और इसके अलावा अन्य जो B ग्रेड होते हैं। A ग्रेड और B ग्रेड के अधिकारियों की भर्ती की जाती है। तो उन सभी की भर्ती UPSC के द्वारा ही की जाती है। तो ऐसे UPSC भारत की केंद्रीय संस्था है।

    UPSC  द्वारा आयोजित परीक्षा -UPSC - 


    संघ लोक सेवा आयोग भारत की केंद्रीय संस्था है। ये संस्था सिविल परीक्षा IFS NDA CDS और IAS ,IPS जैसे लगभग 24 पदों के लिए Exam का आयोजन करवाता है।  और यह भारतीय और केंद्रीय समूह के जो A ग्रेड और ग्रेड B के कर्मचारी होते हैं। उनकी परीक्षाओं का जिम्मेदार Agency है।

    All India Services 


    1. IAS -  Indian Administrative Service 
    2. IPS  -  Indian Police Service 


    Central Services (Group A )

    1. IFS - Indian Foreign Service
    2. IP एंड  TAFS - Indian P एंड  T Accounts and Finance Service 
    3. IA एंड  AS - Indian Audit And Accounts Services 
    4. ICAS -Indian Civil accounts Service
    5. ICLS - Indian Corporate Law Service
    6. IDAS - Indian Defense Account Service
    7. IDES - Indian Defense Estates Service 
    8. IIS- Indian Information Service
    9. IOFS - Indian Ordnanse Factories Service 
    10. IPOS - Indian Postal Service 
    11. IRAS - Indian Railway Accounts Service 
    12. IRPS - Indian Railway Personnel Service 
    13. IRTS -  Indian Railway Traffic Service 
    14. IRS-IT - Indian Revenue Service
    15. IRS-C एंड  CE - Indian Revenue Service 
    16. ITrS - Indian Trade Service 
    17. RPF - Railway Protection Force 


    Group B Service 

    1. AFHCS - Armed Forces Headquarters Civil Services 
    2. (PCS) -  Pondicherry Civil Service 
    3. PPS - Pondicherry Police Service 


    इन सभी Exam में से आपको एक चुनना होता है आप कौन सा Exam देंगे। ये आपके ऊपर Depend करता है ? उस हिसाब से आपको इनमें से कोई भी Exam देना होता है।

    UPSC  के लिए Qualification - 

    कौन कौन से Student दे सकते हैं अगर बात करें Education Qualification  की यानी की पढ़ाई के बारे में तो ऐसे छात्र जो अपना Graduation पूरा कर चुकें है। वो UPSC का एग्जाम दे सकते हैं और ऐसे Student  जो Graduation के अंतिम वर्ष में है या फिर Last सेमेस्टर में है।  तो वो भी UPSC का Exam दे सकते हैं।

    Age Limit  


    1. General - न्यूनतम 21 वर्ष अधिकतम 32 वर्ष तक 
    2. ST/SC -  न्यूनतम 21 वर्ष अधिकतम 32 वर्ष तक / Age में 5 year की छूट 
    3. OBC/ Other -  न्यूनतम 21 वर्ष अधिकतम 32 वर्ष तक / और Age में 3 year की छूट 


    UPSC Exam /Attempt /Chance -


    तो यहाँ Exams के मौके भी श्रेणी के आधार पर बंटे हुए हैं -

    General  -

    General कैटेगरी का है सामान्य श्रेणी में आता है तो उसको 6 चांस मिलते हैं UPSC  Exam में बैठने दे दिया जाता है।

    OBC -

    OBC कैटेगरी के लोगों के लिए तो OBC के जो कैटेगरी के लोग हैं उन्हें 9 चांस मिलते हैं पूरे 9 चांस मिलते है।

    ST/SC and Other -

    जो पिछड़े वर्ग के लोग है उनके लिए असीमित था चांस यानी की Unlimited है। जितनी बार चाहें उतनी बार Exam दे सकते हैं। लेकिन ये 35 वर्ष की Age तक जितनी बार चाहें उतनी बार Exam दे सकते हैं। 35 वर्ष के बाद नहीं दे सकते हैं।


    UPSC Exam Process /Pattern  (परीक्षा प्रक्रिया क्या है) 


    1. Preliminary Exam (प्रारम्भिक परीक्षा )
    2. Main Exam (मुख्य परीक्षा )
    3. Interview (साक्षात्कार )


    Preliminary exam (प्रारम्भिक परीक्षा )

    प्रारंभिक परीक्षा Preliminary exam ये परीक्षा जून और जुलाई के Month में ही कराई जाती है। लगभग जुलाई के महीने होती है। Exam के इस चरण में हमें 2 Paper देने होते हैं। जिनमें पहला है सामान्य-ज्ञान यानी General studies जो की प्रथम प्रश्न पत्र के रूप में आता है।

    जो दूसरा Paper होता है वो होता है Civil Services Aptitude Test इसे इंग्लिश में भी Civil Services Aptitude Test ही कहते हैं। जिसमें प्रत्येक Paper आपका  2 सौ अंक का होता है, यानी की 200  मार्क्स का होगा। और सभी question जीतने भी question होते हैं सभी Objective Type के होते है। जिसमे आपको सिर्फ और सिर्फ टिक करना होता है।   लिखना कुछ नहीं होता जिन्हें हल करने के लिए यानी कि इस पेपर को सॉल्व करने के लिए आपको 2 घंटे का Time  मिलता है, यानी की पूरे आपको 4 घंटे का Time मिल जाता है।

    और इस Exam से जुड़ी एक सबसे Important बात यह है कि प्रारंभिक परीक्षा का जो Result होता है। यानी की जो भी के Marks होते हैं वो Final परीक्षा में जोड़ा नहीं जाता है। और Preliminary exam को पास किए बिना आप जो 2nd परीक्षा होती है यानी की Main  Exam उसमें आप नहीं बैठ सकते हैं।

    और पड़े - 
    NEET का full form क्या है पाए पूरी जानकारी हिंदी में 
    ICU का फुल फॉर्म ICU क्या होता है पूरी जानकारी हिंदी में
    ITI का फुल फॉर्म ITI क्या होता है पूरी जानकारी हिंदी में 

    आइएएस परीक्षा के Final मेरिट में केवल Main Exam  और interview में अर्जित किए गए Marks को ही लिया जाता जाता है। और उसी के अनुपात में आपकी Rank निर्धारित की जाती है।

    Main Exam (मुख्य परीक्षा )-

    Main Exam November या December के समय होता है। जो Main Exam है इसमें आपको 9 पेपर देने होते हैं  इसमें Question जो होते है उसमें 180  से लेकर के 200 तक की Question होते हैं और ये Total 1750   नंबर का होता है। और प्रत्येक Paper के लिए 3 -3  घंटे का समय दिए जाता हैं।

    1St Paper -

    सबसे 1St Paper होता है जितने भी इंडियन language है,  उसमें आपको 18 भारतीय language (भाषा )मिल जाएगी।  इंडियन language दिए होंगे उनमें से आपको किसी एक language  का चयन करना होता है। यानी किसी एक language को चुनना होगा। और उसी के आधार पर आपको Paper देना होगा और यह Paper पूरे 300  अंक का होता है जिसमें 20 -25  प्रश्न होते हैं। ध्यान रहे इस Paper में जो भी आपको Marks मिलेंगे वो आपके Final रिज़ल्ट में नहीं जोड़ा जाएगा।

    2nd Paper 

    ये पेपर होता है आप का English language का पहला तो आपकाChoice भाषा यानी कि आप जो भाषा लेना चाहे तो ले सकते थे। लेकिन अब 2nd Paper  है इसमें आपको डाइरेक्ट English language का ही Exam देना होता है। ये भी पूरे 300  नंबर का होता है और इस पेपर के अंक भी Final Result में नहीं जोड़े जाते हैं।

    3rd Paper -

    3rd Paper हमारा होता है Essay Writing का यानी की निबंध लेखन का इसमें आपको Essay लिखना होता है। ये दो Part होता है ,यानी की दो Part होते हैं इसमें दोनों Part  से आपको कोई एक Essay लिखना होता है और यह Paper आपको 250  अंकों का होता है। इस Paper के अंक Final Result  में जोड़े जाते हैं।

    4 5 6 7th Paper -

    4 5 6 7th Paper इन सभी Question  के बारे में तो ये जीतने भी Paper होते हैं इसमें आपको 250 नंबर का Paper मिलता है।  और ये सभी Paper आप के सामाजिक आर्थिक (Socio economic) और भी जो मुददे होते है उनकी समझ के मकसद से Exam लिए जाते हैं।  जिसमें अलग अलग मुद्दों (Issues) पर अलग अलग परिस्थितियों में आपकी सूझबूझ पर Information की परख की जाती है।

    4,5,6,7th Optional Subject list 

    1. Agriculture  & Animal Husbandry and Veterinary 
    2. Anthropology & Botany 
    3. Chemistry And Civil Engineering 
    4. Commerce And Accountancy 
    5. Economics And Geography / Geology 
    6. Electrical Engineering / History / Low 
    7. Management / Mathematics / 
    8. Mechanical Engineering / Medical Science / Philosophy 
    9. Physics / Political Science / Psychology 

    8 9th Paper -

    इसके बाद 8 9th Paper होता है ये दोनों Paper Objective विषय होते हैं। यानी की Optional पेपर होते हैं जिन्हें आप अपनी Interest के हिसाब से चुन सकते हैं। तो इन दोनों Paper में आपको एक Paper के 250  नंबर मिलते है। यानी की दोनों Paper  आपका Total 500 नंबर का होता है और इन दोनों Paper के आंकड़े होते हैं। वोFinal Result में जुड़ते हैं। तो आप चाहें तो इन दोनों Papers में काफी अच्छे Marks ला सकते हैं।

    Interview (साक्षात्कार ) -

    Interview जो है ये UPSC का last Exam होता है। 
    आप Main Exam  को पास करने के बाद आपको Interview के लिए बुलाया जाता है।  Interview टोटल 250  नंबर का होता है। और इसमें आप जितनी भी Marks (अंक ) अर्जित करेंगे ,यानी की जीतने भी Marks आपको मिलेंगे जो आप की Merit List  में जोड़े जाते हैं।

    चाहे तो हिंदी में Interview दे सकते हैं इसके अलावा अगर आपको English अच्छी आती है तो आप English में Interview दीजिये। तो इस तरीके से हम अपनी मनपसंद भाषा में Interview दे सकते हैं। और Interview February से April माह के भीतर आयोजित किया जाता है।

    UPSC की तैयारी कैसे करे 

     UPSC की तैयारी कैसे करें UPSC की तैयारी करने के 3 तरीके हैं -

    1. Coaching 
    2. Internet 
    3. News Paper 

    यह एक बहुत बड़े Laval पर होने वाला Exam है ,ये तो आपको मालूम ही होगा और ये जो Exam है। इसमें बहुत ज्यादा मतलब हद से ज्यादा Competition होता टफ Competition होता है।  कई लोग सालों से hard work करने के बाद भी इस Exam में सफल नहीं हो पाते। और अगर एक सच में Successful होना चाहते हैं तो ये बात बिल्कुल ध्यान कर लीजिये की आप को बहुत ज्यादा hard work करनी है।

    Coaching -

    Coaching ज्वॉइन करने की तो देश में कई सारे IAS IPS की तैयारी कराने वाले Coaching हैं जो आप ज्वॉइन कर सकते हैं वहाँ पर आपको हर नई Information न्यूज़ और जो भी Notification वगैरह होती है इन सभी के Updates आपको मिलते रहेंगे।  और आपको एक पढ़ने का अच्छा माहौल भी मिलेंगे साथ ही साथ कई वर्षों के Paper और जो Study material होता है। ये आपको Coaching के द्वारा ही उपलब्ध करा दिया जाएगा।

    Internet -

    Internet का सही Use करते हैं तो आप अपने ज्ञान को बढ़ाने में Use कीजिये और पिछले साल के जो भी Papers है और जो भी General knowledge हैं। न्यूज़ ये सब कुछ पढ़ते रहें इससे आपको Internet से काफी Help  मिलेंगे UPSC की तैयारी करने में।

    और पड़ें - 

    News Paper -

    News Paper  ये एक सबसे बेहतरीन तरीका है अपना Knowledge बढ़ाने अगर हो सके तो आप Library joine कर लीजिये जिसमे होगा क्या की जितने भी अलग-अलग type के news paper है वो आपको एक ही place में  एक साथ मिल जाय पढ़ने के लिए। तो इस तरीके से आप UPSC Exam की तेयारी भी कर सकते हैं।

    UPSC के बाद JOB 

    UPSC के बाद जॉब UPSC क्लियर करने के बाद हमें Job कहाँ मीलती है तो जैसा कि मैने आपको पहले बता दिया था कि UPSC अलग अलग Exam कंडक्ट कराती है। तो ये आप पे Depend करता है कि अपने UPSC के द्वारा कौनसा Exam दिया है। और किस Exam में आप क्लियर हो गए हैं।

    यदि आप UPSC द्वारा आयोजित SSE यानी की Civil service exam क्लियर कर लेते हैं तो आप ग्रुप A के अधिकारी जैसे की Collector ,अपर Collector सचिव (Secretary) आदि पदों पर जा सकते हैं। और SSE के अलावा और भी कई सारे Exam होते हैं। ये तो मैने आपको Example के लिए बता दिया कि अगर आपCivil service exam क्लियर कर लेते हैं तो Collector ,अपर Collector सचिव (Secretary)  पद ग्रहण कर सकते हैं।

    लेकिन इसके अलावा और भी कई सारे Exams  है जो कि मैं आपको पहले बताये गए है।  तो इन सभी Exam में से आप जो भी Exam क्लियर  करते हैं।  उस हिसाब से आपको Job मिल जाती है इसमें तो आप किस Type का Exam देंगे उस Type से आपका Job का भी सेलेक्शन होगा।

    अगर आपका कोई सवाल है तो comment करके जरूर बताये और अपने Friends के साथ Share करे।


    Post a Comment

    0 Comments