Recent Posts


NEET ka full form - क्या है योग्यता पाठ्यक्रम परीक्षा पैटर्न


NEET ka full form
NEET ka full form



    NEET का Full Form क्या है नीट Exam से Related क्या क्या बातें करने वाले हैं नीट की Exam क्यों देते हैं

    NEET Ka  Full  Form -

    इसका Full  Form  है  National Eligibility Entrance Test हिंदी में इसे कहेंगे राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा अगर आप अपना Career Medical Field में बनाना चाहते हैं।  तो आपको Neat exam देना  बेहद ज़रूरी है।  क्योंकि जीतने भी Student Medical Field में अपना Career बनाना चाहते हैं।

    उन्हें पहले Neet exam देना होता है,  तब जा कर के उन्हें Medical college में Admission मिलता है। अलग अलग एंड में Career  बनाने के लिए अलग अलग Entrance exam देने होते हैं। ये बात तो आपको मालूम होगी ठीक इसी तरह अगर आप Medical field  में अपना Career बनाते हैं। तो फिर उस से पहले आपको Neet का Exam देना होता है।  ये Exam पूरे इंडिया में Private college की Sheet शामिल करने के लिए भी Valid होती हैं।

    Neet  Exam  में दो Type है - 
    1. NEET UG 
    2. NEET PG 

    NEET UG - 

    Neet UG क्या होता है और NEET  UG क्या होता है Neet UG की तयारी कौन कौन से स्टूडेंट करते है और NEET  UG की तैयारी कौन कौन से Student करते हैं -

    तो NEET  UG  जो है ये 12TH पास Student दे सकते हैं जो अपना Career Medical Field बनाना चाहते हैं। 12th पास करने के बाद पर इसमें आपका जो question पूछा जाता है।  वो 11th 12th  का syllabus से ही पूछा जाता है।

    NEET PG- 

    है और आपको UG Course  कर चूके हैं पहले तो उसके बाद आप Medical field में अपना Career बनाना चाहते हैं फिर आप NEET PG का Exam दे सकते हैं  यानी की NEET का Exam देने के लिए आपको 12th पास होना भी Impotent हैं।  इसके साथ साथ आपको  UG Course में Degree हासिल करना भी जरूरी है।

     तो यदि आप MBBS या फिर Media जैसे Graduate level  के Course में Admission लेना चाहते हैं।  तो आपको NEET UG  का Exam  देना जरूरी होता है।

    और पड़े -
    ITI  क्या है / Top 50 ट्रेड योग्यता पूरी जानकारी हिंदी में 
    ICU क्या है क्यों रखा जाता है कैसे रखा जाता है पूरी जानकारी 
    Computer साइंस क्या है Top Courses / योग्यता पूरी जानकारी 


    Neet Exam  की Eligibility/ योग्यता /Criteria -

     अगर  NEET UG के लिए Eligibility Criteria के बारे में बात किया जाए educational qualification के बारे में तो इसके लिए काफी सारे qualification  हमारे पास होनी चाहिए ।12th  होना जरूरी है ये बात तो आपको पहले पता चल गया कि हमें 12th  होना जरूरी है और साथ में PG  से पास होना जरूरी है।

    1. 12ेंth पास Biology होना Compulsory हैं,  लेकिन अगर हमारे पास 12th  में Biology नहीं था तो फिर हम NEET Exam भी नहीं दे सकते हैं।   
    2. इसके साथ-साथ आपके पास 12th  में 50 % Marks भी होनी चाहिए 50 % Marks  है।  ये General candidate  के लिए है यानी की वो Candidates General Category से आते है।  और यदि आप OBC SC या फिर ST हैं यानी कि Category से आते हैं।  तो आपको 40 % Marks  लाना Compulsory है। 
    3. अगर आप General Category से आते हैं , लेकिन Physical Handicapped Candidate हैं।  तो फिर आपको 45 % Marks  लाना जरूरी है। और अगर आप OBC/ SC /ST Category से आते है , और साथ में Physical handicap भी है,  तो फिर आपको 40 % Marks  लाना Compulsory है।

    Age - 

    Age के बारे में तो आप की कम से कम Age होनी चाहिए , 17 साल और ज्यादा से ज्यादा Age होनी चाहिए 25  यानी की Minimum होने से 17 maximum 25 और अगर आप ST/SC  या फिर OBC Category के Candidates हैं . तो आपको 5 साल Extra मिलेगा यानी की आप 30  के है। तो इस Exam को दे सकते हैं लेकिन अगर आप General category से आते है। और आपकी Age 25  पार कर चुकी है यानी की आप 26  के हैं तब भी आप इस Exam को नहीं दे सकते हैं।  और अगर आप 27 हैं तब भी आप इस Exam को नहीं दे सकते हैं।

    Nationality -

    आपको Indian होना जरूरी है


    NEET  Exam कितनी बार दे सकते है - 

     इस Exam को Attend करने की आपको कितने Chance मिलते हैं-
     तो इस Exam को देने की आपके पास पूरे 3 Chance होते हैं 3 बार आप Exam attend कर सकते हैं अगर आपने 12th का Exam दिया हैं। आप 12th पास है और 12th पास करने के बाद आपकी पढ़ाई में 1 साल का Gap आ गया है , तो भी आप NEET  UG  की तैयारी कर सकते हैं और NEET की Exam दे सकते हैं।

    NEET Exam Subject (Syllabus )- 

    NEET  UG Exam में कौन कौन से Subject  होते हैं -

     तो इसमें चार Subject होते हैं -

    1. Physics (भौतिक विजान )
    2. Chemistry  (रसायन विज्ञान )
    3. Botany  (वनस्पति विज्ञान)
    4. Zoology  ( प्राणी विज्ञान )

     NEET Exam Subject Main Topic -

    Exam में आने वाले main Topic इस तरह से है , जिससे आपको पढ़ाई करने में आसानी हो इसलिए आपको कुछ topic दिए गए है तो आप उन्हें follow करके Exam पास कर सकते है। 

     Physics subject -

     भौतिक विज्ञान इसका सबसे Importance Topic है Mechanic इस Topic  से सबसे ज्यादा Marks के Question पूछे जाते हैं।  तो आप Mechanic Topic  पर जरूर ध्यान दीजिएगा।  और 9-10  नंबर के question पूछे जाते हैं Electrodynamics Topic से।

    Chemistry Subject - 

    में आपका Organic Chemistry से ज़्यादा Question आते हैं इन ऑर्गेनिक केमिस्ट्री से थोड़े कम Question  आते हैं लेकिन Organic Chemistry सबसे ज्यादा Question पूछे जाते हैं और आपको Chemical bonding और Coordination compound  इन सब पर थोड़ा ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।  क्योंकि इनसे ज्यादा Marks के Question आते हैं।

    Biology - (Botany / Zoology)

    Biology के जो Question होते हैं वो 45  Botany के होते हैं 45  Zoology के होते हैं इसमें ज्यादातर Question 12th के सिलेबस के बेस पर पूछे जाते हैं। और ज्यादातर NCERT Books से पूछे जाते हैं तो इसलिए आप NEET  की तो NCERT Books जरूर कीजियेगा Genetics  और Human physiology इसका Hot Topic है।  यानी कि इनमें से ज्यादा Question आते हैं और साथ में Plant Physiology Sales Tax & Function ये कुछ Important topic  है।

    और पड़ें - 
    खाता book app क्या है कैसे काम करता है पूरी जानकारी 
    सुकन्या समृद्धि योजना क्या है क्या process है 
    इग्नू क्या है , योग्यता  Fees पूरी जानकारी हिंदी में 

    Exam  Pattern / Cut /Off  -

    Physics Chemistry से Zoology and Botany से आपके कितने Question पूछे जाते हैं तो आपके Physics से 45 Question पूछे जाते हैं बाकी सारे Subject से भी आपके 45 एक Question ही पूछे जाते हैं और इनके Marks कितने होते हैं पूरे Marks होते है 180  यानी कि आपका Physics का पेपर 180  मार्क्स का होता है।

    आपका एक Question पूरे चार Marks का होता है इस हिसाब से आपका जो Physics का पूरा पेपर होगा वो 180  Marks का होगा। इस तरीके से Chemistry का भी 180  Marks का है Zoology का भी 180 Marks का है और Botany का भी 180  Marks का है और ये एग्जाम होता है। NEET का Exam इसमें Negative marking Scheme होता है इसलिए आपका जो भी Wrong आंसर होगा उसपे माइनस 1 नंबर चलें जायँगे यानी कि आपका 1 नंबर काट लिया जाएगा।



    इस तरीके से सभी Subject में आपका Negative marking Scheme  है और सबसे Equal ही है - 1 और जब आप सही Answer देते हैं। यानी की आपके Right answer  पे आपको 4 Marks मिलते है एक Question पे आपको चार Marks मिलेंगे और जीतने भी आपके Question होते हैं वो सारे Objective type के Question होते हैं। आपको किसी भी answer लिखने की जरूरत नहीं होती चार Option होते हैं चारों में से आपको किसी Right option पर क्लिक करना होता है।

    जो भी Question छोड़ देते हैं यानी की मिस Question जो भी Question  छोड़ते हैं उनमें आपका कोई Negative marking नहीं होता है। ना तो उसमें आपके Marks काटे जाते है ना आपको एक्स्ट्रा Marks दिए जाते हैं तो इस पेपर में आपके Total 180  Question पूछे जाते हैं सभी सब्जेक्ट थी टोटल Marks का जो पेपर होता है 720  नंबर का पेपर होता है और Question टाइप आपको पता चल गया एम्सीक्यू Type के Question होते हैं

    अगर बात की जाए Exam के mode की तो ये Offline Exam होता है यानी पेन पेपर Mode पे और Exam  को देने का जो time होता है पूरे 3 घंटे का होता है आपके पास पूरे 3 घंटे होते है Exam को करने के लिए 3 घंटे में से आप कितना भी समय किसी भी Subject को दे सकते हैं।

    NEET परीक्षा  की भाषा ( language) - 

    नीट Exam के language के बारे में यानी कौन-कौन से भाषा में ये Exam होती है।  language की बात की जाए तो यहाँ पर सारे language का  दिए गए हैं -

    1.  हिन्दी/ इंग्लिश (Ganeral )
    2.  बंगाली 
    3. तेलुगू
    4. कन्नड 
    5. गुजराती 
    6. तमिल 
    7. मराठी 
    8. ओडिया
    9. और उर्दू


     इन सभी भाषा में आप का जो Exam होता है,  इनके अलावा जो और भी language होती है उनमें आपका Exam नहीं कराया जाता है सिर्फ हिंदी language में एग्जाम होता है। और इन language में भी आपको सेंटर का ध्यान रखना होगा और इस तरह से सभी language दिए गए हैं। जैसे गुजरात के लिए है गुजरात दमन दादरा नगर हवेली मराठी language के लिए महाराष्ट्र है फिर तमिल के लिए तमिलनाडू है तेलगु के लिए आंध्र प्रदेश तेलंगाना है और उड़िया language के लिए ओडिशा है हिंदी इंग्लिश language के लिए कर्नाटक है तो ये सारे आपके language के साथ साथ सेंटर लिस्ट है।

    और पड़ें - 
    PHD क्या है कैसे करें 
    MBA क्या है पूरी जानकारी 
    BA के बाद क्या करें 

    NEET PG के बारे में - 

    Courses के बारे में तो NEET PG  का एग्जाम वो Student देते हैं जिन्होंने 12th पास कर लिया है और साथ में कोई न कोई अंडर Graduate course भी कर लिया है।  अंडर Graduate course करने के बाद जब वो अपना करियर Medical field में बनाना चाहते  तब वो NEET PG  के एग्जाम देते हैं NEET PG  में एमएस या फिर जैसे कोर्स में Admission लेने के लिए वो Exam देते हैं।  ये एग्जाम Post graduate medical course में Admission लेने के लिए कराया जाता है।

    Question पेपर की तो उसका Question पेपर 3 पार्ट्स में Divide होता हैं part -part होता है। उसमें आपके फिफ्टी Question पूछे जाते हैं। और पार्ट बी में आपसे हंड्रेड Question पूछे जाते हैं और इसी तरह से पार्टी में आपके वन हंड्रेड एंड फिफ्टी Question पूछे जाते है। आपका हर एक Question 4 नंबर का होता है और हर एक गलत Question आपका Negative marking भी होता है। आपका 1 मार्क्स काट लिया जाता है।

    Post पसंद आये तो जरूर share करें और हमें कमेंट करके बताये Post help full है या नहीं। 

    Post a Comment

    0 Comments